2 Comments
You need to or to post a comment.
You need to or to post a comment.

All Comments



3 years ago

कंडोम की जरूरत नहींयह तब की बात है जब मैं पढ़ता था। मेरे साथ एक लड़की पढ़ती थी, क्या बताऊ कैसे लगती थी? एकदम जैसे क़यामत ! लाल लाल होंठ, इतने लाल कि लगता था कि लिपस्टिक लगा कर आई है, गाल एकदम गोरे गोरे, चेहरे पर चश्मा लगाने के बाद ऐसे लगती थी जैसे "3 इडियट्स" की करीना कपूर ! हम दोनों मेडिकल साइंस के विद्यार्थी थे और किस्मत से हम दोनों के रोल नम्बर भी एक साथ थे जिससे हम दोनों एक साथ लैब में जाते थे और वहाँ भी हम दोनों को एक साथ काम करना पड़ता था यानि हम दोनों का जोड़ा बनता था। एक दिन की बात है, लैब में कोई प्रयोग करते समय वो गलती पर गलती कर रही थी और वो प्रयोग ख़राब हो रहा था। तो मैंने बहुत समझाया पर वो सही नहीं कर पा रही थी। परेशान हो कर मैं उसके पीछे गया और उसके दोनों हाथ पकड़ कर उससे वो प्रयोग करवाया। प्रयोग तो हो गया पर मेरे हालत ख़राब हो रही थी क्यूंकि मेरा लंड उसकी गांड को छू कर खड़ा हो गया और मै नहीं चाहता था कि उसे पता चले। अगले दिन फिर वही कहानी हुई, तब मुझे भी लगा कि लोहा गर्म है, हथोड़ा मार देना चाहिए। पर मेरे एक दोस्त ने कहा कि उसे और तड़पाओ उसके बाद सेक्स का बहुत मजा आयेगा। इसलिए मैं उसे तड़पाता रहा। कुछ दिनों के बाद मै भी उसे उत्तेजित करने लगा। जब लैब में मैं उसे पीछे से पकड़ कर कोई प्रयोग करवाता तो चुपके से उसकी गर्दन पर चूम लेता और लंड को भी उसे की गांड से छुआ देता और वो भी एक हाथ पीछे ले कर मेरे लंड को सहलाने लगती। एक दिन जब स्कूल में परीक्षा हो रही थी तो उसका एक प्रयोग नहीं हो रहा था, जो हल्का लाल रंग आना था वो नहीं आ रहा था और फिर से करने का समय भी नहीं था, वो बहुत घबरा गई। तब मुझे लगा मुझे ही कुछ करना होगा। मैंने एक झटके से उसकी हेयर-पिन निकाली और अपनी अंगुली से खून की दो बूँद उसकी प्रयोग में डाल दी जिससे उसका मनचाहा रंग आ गया। पर एक बात बताऊँ दोस्तो, वो खुले बालों में क्या क़यामत लग रही थी ! मन कर रहा था कि वहीं पर उसे चोद दूँ ! मेरा लंड सलामी देने लगा जिसे शायद उसने देख लिया। पर हमारी यह हरकत एक लड़की शीला ने भी देख ली और उसे शक हो गया। कुछ दिन यों ही निकल गए। मैं उसे चोदने की सोच रहा था पर कोई मौका नहीं मिल रहा था। एक दिन उसने मुझसे कहा कि उसे एक चैप्टर में कोई परेशानी है तो मैं उसके घर पर आकर उसे पढ़ा दूँ। उसने कहा कि घर पर कोई नहीं है, हम आराम से पढ़ सकेंगे। "अंधे को क्या चाहिए, दो आँखें !" मैंने हाँ कर दी।

likes
3 years ago

pl  se to meeessa to sex

likes
mksingh927 - Male
Live Chat:
login to chat
 
 

Rate ME!

0 votes

India
Member for 3 years
 
Stats
Friends:
0
Subscribers:
0
Viewed Videos:
0
Ratings:
0
Viewed Photos:
0